चुदाई की दीवानगी

हैल्लो फ्रेंड्स में अन्तर्वासना सेक्स कहानी डॉट नेट की बहुत बड़ी फैन हूँ। दोस्तों पहले में आप सभी को अपना परिचय दे दूँ.. मेरा नाम पूजा है और में 21 साल की हूँ और में बहुत सेक्सी लड़की हूँ और में एक इंजिनियरिंग स्टूडेंट भी हूँ। मेरा फिगर 32-30-36 और 5.4 इंच हाईट और गोरा कलर, सिल्की बाल, और में बहुत सुंदर दिखती हूँ और मेरा एक बॉयफ्रेंड भी है.. जिसका नाम समीर है। chudai

समीर की हाईट 5’11 इंच, लंड 8 इंच.. अच्छी खासी बॉडी है.. उसने कई बार मेरी चुदाई भी की है जिससे मुझे पता चलता है कि उसका लंड हर किसी की चूत को एक बार में ही फाड़ देगा और उसके लंड को झेलने की ताकत हर किसी की चूत में नहीं वो बस एक बार में ही पसीने ला देता है।

Antarvasna Chudai > हम तो आपका दूध पिएँगे

तो दोस्तों में जो स्टोरी यहाँ पर आप सभी को बता रही हूँ वो 100% सच है। में और समीर बहुत खुलकर एक दूसरे के साथ रहते है। हमने बहुत बार सेक्स भी किया है और में 18 साल की थी जब मैंने अपने भाई के दोस्तों से अपनी सील तुड़वाई थी।

में और समीर साथ में ब्लूफिल्म देखते थे और हम ज्यादातर ग्रूप सेक्स या नये नये तरीके की चुदाई की ब्लू फिल्म देखते थे। फिर एक दिन हमने कॉलेज से बंक मारकर फिल्म देखने का प्लान बनाया। फिर हम सभी लोग एक फ्लॉप फिल्म देखने गये। थियेटर पूरा करीब करीब खाली ही था। फिर जैसे ही फिल्म स्टार्ट हुई.. तभी समीर भी अपना काम करने में स्टार्ट हो गया। उस दिन मैंने सफेद शर्ट और शॉर्ट मिनी स्कर्ट पहनी हुई थी।

Antarvasna Chudai > भाभी की ब्ल्यू पेंटी

तभी उसने शर्ट के सारे बटन खोल दिए। फिर समीर मेरे बूब्स मेरी ब्रा के ऊपर से चूस रहा था। तभी मैंने उसे अपनी ब्रा खोलकर अपने निप्पल उसके मुहं में डाल दिए। फिर वो एक छोटे बच्चे की तरह मेरे बूब्स दबाकर चूस रहा था। तभी उसने मेरी शर्ट पूरी तरह निकाल दी और में ऊपर से पूरी नंगी हो गयी थी। फिर वो कभी मेरे सीधे बूब्स को दबाता तो कभी उल्टे बूब्स को। फिर उसने चूस चूस कर मेरे दोनों बूब्स लाल कर दिए थे।

फिर मैंने उसकी पेंट की ज़िप खोलकर उसका 8 इंच मोटे लम्बे लंड को बाहर निकालकर सहलाने लगी और फिर उसे अपने मुहं में लेकर चूसने लगी और फिर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। मैंने बहुत लोगो का लंड (bada lund) कई बार चूसा है इसलिए मुझे बहुत अनुभव है.. लंड चूसने में और चूस चूसकर खड़ा करने में। फिर समीर ने मेरा सर पकड़ा और ज़ोर जोर से मेरे मुहं को चोदने लगा।

Antarvasna Chudai > तुम्हारे बिना नहीं रह सकती

लेकिन उसने मेरी आज हालत बहुत खराब कर दी क्योंकि उसे आज बहुत दिनों के बाद मौका मिला था और वो आज पूरा हिसाब चुकाना चाहता था। फिर उसकी इस चुदाई ने मेरी आँखों से आंसू तक ला दिये थे और पूरा का पूरा मुहं लाल कर दिया। फिर करीब थोड़ी देर बाद उसने मेरे मुहं में ही अपना सारा वीर्य निकाल दिया और फिर में उसका सारा वीर्य पी गई।

फिर समीर फिल्म देखते देखते मेरी चूत में उंगली कर रहा था। तभी वहाँ पर दो लड़के और एक औरत हमारे आगे आकर बैठ गए। तभी मैंने तुरंत मेरी शर्ट लेकर मेरे बूब्स छुपा लिए लेकिन उन्होने शायद मेरे बूब्स देख लिए थे। फिर थोड़ी देर बाद में चौक गयी.. मैंने देखा कि वो दो लड़के उस औरत के मज़े ले रहे थे। एक लड़के उसके बूब्स दबा रहा था और दूसरा उसके होंठो को किस कर रहा था।

Antarvasna Chudai > बर्थडे का विशेष उपहार

फिर मेरे और समीर के सामने ग्रुप सेक्स चल रहा था। तभी मेरी चूत गीली हो गई और तभी समीर भी अब मुझे जमकर किस करने लगा और तभी मैंने भी अपनी शर्ट उतार कर फिर से साईड में रख दी। मेरी स्कर्ट भी ऊपर आ गई थी और अब मुझे ऐसा लग रहा था जैसे में नंगी बैठी हूँ।

तभी मैंने देखा कि उनमे से एक लड़का पीछे मुड़कर हम लोगो को देख रहा था। फिर इस बार मैंने जान बूझकर मेरे बूब्स उसको दिखाए और अपने दोनों हाथों से अपने बूब्स दबाने लगी। तभी समीर ने देखा कि में उसको बूब्स दबाकर दिखा रही हूँ और तभी उस लड़के ने सामने देखा और कहा कि क्या आप दोनों हमारे साथ में मिलकर यह सब करना चाहोगे? उस लड़के ने समीर से पूछा।

Antarvasna Chudai > घोडी बनाकर चोदो मुझे

फिर समीर ने बिना मुझे पूछे हाँ कह दी क्योंकि वो दो लड़के जिस औरत के साथ सेक्स कर रहे थे वो 40 साल की होगी और बहुत बड़े बड़े बूब्स वाली थी। फिर जैसे ही समीर ने हाँ कहा तभी वो तीनों लोग हमारे पीछे आ गये। में ज़रा सी डरी हुई थी।

फिर हमने एक दूसरे का नाम पूछा.. एक का नाम राज था.. उसकी उम्र 21 साल और दूसरे लड़के का नाम सागर था.. उसकी उम्र 23 साल थी और उस औरत का नाम शिल्पा था। तभी पहले राज ने शुरुआत करते हुए मेरे हाथ सहलाने शुरू किए और मेरा मुहं उसकी तरफ करके किस करने लगा। फिर सागर भी मेरे दूसरी तरफ आकर मेरे बूब्स दबाने लगा। समीर शिल्पा की बाहों में चला गया था और दोनों प्यार कर रहे थे।

Antarvasna Chudai > तुम्हारे बिना नहीं रह सकती

फिर में समीर को भूलकर उनके साथ सेक्स करने लगी। फिर में राज को किस करने में साथ देने लगी और अपने एक हाथ से सागर का सर पकड़ कर मेरे बूब्स पर दबा रही थी। तभी थोड़ी देर बाद सागर मेरी चूत चाटने लगा और राज मेरे बूब्स चूसने लगा। मुझे ऐसे लग रहा था जैसे मैं जन्नत में पहुँच गयी। फिर सागर अपनी पूरी जीभ मेरी चूत में डाल रहा था और जीभ से चूत चाट चाटकर चुदाई कर रहा था और मजे ले रहा था। तभी में ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी।

मैंने इससे पहले कभी एक साथ दो लड़को से मजे नहीं लिये थे। फिर मैंने आँख खोलकर साईड में देखा तो पता चला कि समीर शिल्पा को बहुत बुरी तरह से चोद रहा था और शिल्पा रो रही थी क्योंकि समीर का लंड बहुत बड़ा था। फिर तभी.. हम भी तुझे ऐसे ही चोदेंगे.. राज ने मुझे समीर की तरफ देखते हुए बोला। लेकिन सागर अभी भी मेरी चूत चाट रहा था और में अपने अंतिम छोर में पहुँच चुकी थी और तभी कुछ दो- तीन मिनट के बाद मैंने अपना सारा पानी सागर के मुहं में छोड़ दिया और वो उसे पी गया।

Antarvasna Chudai > बेताबी चुदाई की

Leave a Comment